झारखंड में मानसून की एंट्री को ले बढ़ रही अनिश्चितता, अब 23 से 25 जून के बीच..

News Aroma Desk

Monsoon Enter Jharkhand Between 23rd and 25th: झारखंड में एक ओर लोग गर्मी से परेशान हैं, तो दूसरी ओर यहां मानसून (Monsoon ) के आगमन की तिथि की अनिश्चितता भी बनी हुई है।

- Advertisement -

पहले 19-20 जून की बात थी, अब कहा जा रहा है कि 23 से 25 के बीच झारखंड में मानसून की Entry की संभावना है। इस दौरान इसके बिहार और बंगाल के कुछ भागों में आच्छादित होने की संभावना बताई जा रही है।

राज्य में पिछले एक दशक के दौरान झारखंड में केवल तीन बार Monsoon समय पर और सात बार बिलंब से आया। 2014 से लेकर 2023 तक यह केवल तीन बार 2015 में 15 जून, 2020 में 13 जून और 2021 में 12 जून झारखंड में प्रवेश किया।

- Advertisement -

मौसम वैज्ञानिक (Meteorologist) अभिषेक आनंद का कहना है कि मानसून आने की कोई एक निर्धारित तिथि नहीं होती। यह मानसून के प्रवेश और प्रस्थान की तिथि को लेकर अध्ययन के आधार पर एक औसत अवधि होती है, जिस बीच मानसून आगमन और प्रस्थान करता है। मानसून के प्रवेश या प्रस्थान की तिथियों के कारण यह अवधि निश्चित की जाती है।

देश के विभिन्न हिस्सों से इस रूप में मानसून के गुजरने की बन रही स्थिति

मौसम विभाग के ताजा पूर्वानुमान में अगले पांच दिनों के दौरान महाराष्ट्र, उड़ीसा, तटीय आंध्र प्रदेश, बंगाल की खाड़ी का शेष भाग, पश्चिम बंगाल और बिहार के कुछ हिस्से तक आने का पूर्वानुमान है।

इस संभावना के पूरी हो जाने के बाद झारखंड में मानसून आगमन के लिए चार से पांच दिन और लग सकते हैं।

मौसम विभाग (Weather Department) के अनुसार, देश के विभिन्न भागों के गुजरनेवाले मानसून का नार्दर्न लिमिट ऑफ मानसून नवसारी, जलगांव, चंद्रपुर, बीजापुर, सुकमा, मलकानगिरि, विजयनगरम और इस्लामपुर से होकर गुजर रहा है।