झारखंड : शिवसेना के नगर प्रमुख पर गोली चलने के मामले मेंं एक गिरफ्तार

सिमडेगा: पिछले दिनों शहरी क्षेत्र में शिवसेना के नगर प्रमुख पर चली गोली कांड का पुलिस ने खुलासा करते हुये एक आरोपी को पिस्तौल के साथ गिरफ्तार किया है।

एसपी डॉ शम्स तबरेज ने गुरूवार को प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि पिस्टल साफ करने के दौरान चंदन प्रसून को गोली लगी।

एसपी ने बताया कि चंदन प्रसून द्वारा झूठी प्राथमिकी अंकित मिंज के ऊपर दर्ज कराई गई थी।

एसपी ने बताया कि घटना के दिन चंदन प्रसूप अपने दोस्त मनीष सिंह के साथ कुंज नगर स्थित परशुराम शाह के किराए के मकान में बैठकर शराब पी रहा था। वहां पर अमरजीत सिंह , मनीष सिंह भी मौजूद था।

एसपी ने बताया कि मनीष सिंह अपना अवैध पिस्तौल निकालकर उसे साफ कर रहा था। पिस्तौल में गोली लोड था।

पिस्तौल साफ करने के क्रम में ही गोली चल गयी। गोली चंदन पर के पैर में लगी। चंदन फिलहाल रिम्स में इलाजरत है।

एसपी ने बताया कि गोली चलने के बाद मनीष सिंह ने रामजी यादव की मदद से फायर किया हुआ पिस्तौल और एक जिंदा गोली को छुपाने के लिए अमरजीत सिंह की मदद ली।

अमरजीत सिंह ने अवैध पिस्तौल एवं गोली को एक व्यक्ति की झोपड़ी में लाकर छुपाना चाहा। लेकिन उस व्यक्ति ने उसका विरोध किया।

इसके बाद सभी लोगों ने पिस्तौल और गोली को छठ तालाब के पास चारदीवारी के अंदर झाड़ी में छुपा दिया था, जिसे पुलिस ने छानबीन के क्रम में बरामद कर लिया।

एसपी ने बताया कि उक्त मामले में गहन अनुसंधान करते हुए इंस्पेक्टर दयानंद कुमार ने और उनकी टीम ने अत्यंत ही सराहनीय काम किया है।

छानबीन के आधार पर एक निर्दोष जेल जाने से बच गया। इधर अमरजीत सिंह को देसी पिस्तौल तथा एक जिंदा कारतूस के साथ गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।

अंकित मिंज पर लगा आरोप झूठा साबित हुआ

सिमडेगा थाना धारा 307, 34 भादवी , 27 आर्म्स एक्ट के तहत ब्लॉक कॉलोनी निवासी घायल चंदन प्रसून के द्वारा गोली चलाने के मामले में अंकित मिंज एवं अन्य अज्ञात के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई थी।

पुलिस ने छानबीन की। छानबीन के क्रम में अंकित मिंज द्वारा गोली चलाने तथा घायल के द्वारा बताये गए घटनास्थल से किसी प्रकार का कोई सबूत पुलिस के हाथ नहीं लगे।

दयानंद व उनकी टीम को पुरस्कृति किया जायेगा

एसपी ने बताया कि पुलिस के हाथों एक निर्दोष जेल जाने से बच गया।

घटना का उद्भेदन करने वाले टाउन थाना प्रभारी दयानंद कुमार सिहत उनकी टीम को केश का सही तरीके से अनुसंधान करने तथा सच्चाई को सामने लाने के लिये पुरस्कृत किया जायेगा।

Back to top button