छापामारी करने गई पुलिस टीम पर कोयला तस्करों ने शुरू कर दिया पथराव, फिर…

News Aroma Desk

Ramgarh Coal Smugglers: रामगढ़ (Ramgarh) और बोकारो (Bokaro) जिले के सीमावर्ती क्षेत्रों में अवैध कोयले (Illegal Coal) का कारोबार चल रहा है।

बेस्ट बोकारो OP क्षेत्र में इस अवैध कारोबार के खिलाफ वरीय अधिकारियों की टीम भी लगातार छापेमारी कर रही है। रविवार की रात भी हजारीबाग DIG की टीम रामगढ़ जिले में छापेमारी कर रही थी।

इसी दौरान यह टीम वेस्ट बोकारो ओपी क्षेत्र के जंगली इलाके में घुस गई। वहां कोयले से लदी गाड़ी भी इस टीम ने पकड़ी। लेकिन जैसे ही उस गाड़ी को पुलिस ने अपने कब्जे में लिया, कोयला तस्करों का गिरोह उनपर हावी हो गया। 50-60 तस्करों के द्वारा पुलिस टीम पर पथराव शुरू कर दिया गया और उन लोगों ने पुलिस के चंगुल से कोयल लदी गाड़ी छुड़ा ली।

कलाली मोड़ के निकट हुआ हमला

पुलिस टीम पर बेस्ट बोकारो ओपी क्षेत्र के कलाली मोड़ के पास यह घटना घटी। जानकारी के अनुसार वह क्षेत्र नक्सलियों का इलाका माना जाता है।

वहां से महज 8 KM की दूरी पर बोकारो जिले में तीन दिनों तक नक्सलियों और CRPF के जवानों के बीच मुठभेड़ चली थी। अभी भी उसे इलाके में दहशत का माहौल बना हुआ है। वेस्ट बोकारो क्षेत्र में नक्सलियों का मनोबल कितना बढ़ा है कि वे लोग ईंट भट्ठा मालिकों से भी लेवी वसूल रहे हैं। इस मामले में थाने में सूचना भी दर्ज है।

पथराव करने वाले तस्करों पर हुई प्राथमिकी, SP थानेदार को करेंगे शो कॉज

इस पूरे प्रकरण पर हजारीबाग DIG सुनील भास्कर ने कार्रवाई करने का आदेश जारी किया है। उन्होंने बताया कि पुलिस की पूरी टीम को कोयला तस्करों के द्वारा घेर लिया गया था। उन लोगों की जान बाल बाल बच्ची है।

इस मामले में वेस्ट बोकारो ओपी प्रभारी की भूमिका भी संदिग्ध है। उन्होंने बताया कि पुलिस टीम पर पथराव करने वालों पर प्राथमिकी (FIR) दर्ज कर ली गई है।

रामगढ़ SP ने यह कहा है कि थानेदार बलवंत दुबे को शो कॉज नोटिस किया जाएगा। इस पूरे मामले की जांच शुरू हो गई है। अगर इस जांच में पुलिस विभाग के किसी पदाधिकारी की भूमिका भी सामने आती है,तो उनके खिलाफ भी कार्रवाई होगी।

हमें Follow करें!

x