बंधु तिर्की ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को पत्र लिखकर डीएमएफटी की राशि का जनहित में उपयोग करने का किया आग्रह

रांची: कांग्रेस विधायक बंधु तिर्की ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को पत्र लिखकर जिला खनिज फाउंडेशन ट्रस्ट (डीएमएफटी) फण्ड का उपयोग जनहित के कार्यों में करने का आग्रह किया है।

तिर्की ने शुक्रवार को लिखे अपने पत्र में कहा है डीएमएफटी नियमावली द्वारा अधिसूचित किया गया है।

जिसमें खनन प्रभावित क्षेत्र के विकास एवं कल्याण के लिए प्रधानमंत्री खनिज क्षेत्र कल्याण योजना (पीएमकेकेकेवाई) के मार्गदर्शन अनुसार योजनाओं के चयन, वार्षिक योजना का अनुमोदन, परियोजना की स्वीकृति के साथ न्याष कोष से राशि विमुक्ति की शक्ति, परियोजनाओं के क्रियान्वयन पर्यवेक्षण एवं अनुश्रवण संबंधित प्रावधान सन्निहित है।

उन्होंने कहा है कि देश के 21 खनन राज्यों में झारखंड को दूसरे नंबर पर सबसे अधिक राशि (डीएमएफटी) कोष के लिए खनन प्रभावित लोगो के विकास एवं कल्याण के लिए वार्षिक लगभग 5000 करोड रुपए आवंटित होता है।

जिसमें से आधी राशि भी खर्च नहीं हो पाती। संबंधित अधिकारी द्वारा एनजीओ एवं एजेंसी के माध्यम से राशि का बंदरबांट किया जाता रहा है।

ऐसे में कोविड-19 जैसे महामारी काल में डीएमएफटी फंड का उपयोग जन सेवा के कार्यों जैसे कि ग्रामीण अस्पतालों के सृजन, प्राकृतिक आपदा चक्रवर्ती तूफान यास से प्रभावित किसानों का आकलन करा कर मुआवजा देने, राज्य के विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा के लिए छात्रवृत्ति प्रदान करने एवं अन्यत्र ऐसे जनकल्याणकारी योजनाओं में राशि का खर्च किया जा सकता है लेकिन झारखंड के पूर्वर्ती सरकार द्वारा इस संबंध में गजट का निर्माण कर अधिसूचना जारी की गई है।

उन्होंने लिखा है कि इस गजट के कुछ बिंदुओं पर खामियां हैं जिसके चलते राशि का पूर्णरूपेण खर्च नहीं हो पाता है।

ऐसे में सरकार से आग्रह होगा कि उक्त गजट में संशोधन कर खामियां को दूर किया जाय।

जिससे डीएमएफटी फण्ड का उपयोग जनउपयोगी योजनाओं में किया जा सके।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button