Uncategorized

खुदरा महंगाई दर मई महीने में घटकर 7.04 फीसदी पर

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय के सोमवार को जारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गयी

नई दिल्ली: महंगाई के र्मोचे पर आम आदमी (Common man) को राहत देने वाली खबर है।

खाने-पीने की वस्तुएं सस्ती होने से खुदरा महंगाई दर मई 2022 में घटकर 7.04 फीसदी पर आ गई, जबकि अप्रैल में यह 7.79 फीसदी थी

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय के सोमवार को जारी आंकड़ों में यह जानकारी दी गयी।

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (National Statistics Office) के आंकड़ों के मुताबिक उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित (सीपीआई) पर आधारित खुदरा महंगाई दर मई, 2022 में घटकर 7.04 फीसदी रही, जबकि अप्रैल में खुदरा महंगाई दर 7.79 फीसदी पर थी। वहीं, पिछले साल मई में खुदरा महंगाई दर 6.3 फीसदी थी।

आंकड़ों के मुताबिक खाद्य वस्तुओं की महंगाई दर मई, 2022 में घटकर 7.79 फीसदी रही है, जो पिछले महीने 8.31 फीसदी रही थी।

महंगाई दर के अनुमान को 5.7 फीसदी से बढ़ाकर 6.7 फीसदी कर दिया

हालांकि, खुदरा महंगाई दर यानी मुद्रास्फीति (Inflation) लगातार पिछले पांच माह से रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) के संतोषजनक स्तर से ऊपर बनी हुई है।

उल्लेखनीय है कि रिजर्व बैंक ने इस महीने मौद्रिक नीति समीक्षा में चालू वित्त वर्ष 2022-23 के लिए महंगाई दर के अनुमान को 5.7 फीसदी से बढ़ाकर 6.7 फीसदी कर दिया है।

RBI मौद्रिक नीति (Monetary policy) पर विचार करते समय मुख्य रूप से खुदरा महंगाई दर पर गौर करता है। दरअसल सरकार ने रिजर्व बैंक को महंगाई को 2 फीसदी घट-बढ़ के साथ 4 फीसदी पर रखने की जिम्मेदारी दी हुई है।