बिहार

बिहार में आज 350 ट्रेनें और 20 जिलों में इंटरनेट सेवा बंद, पुलिस अलर्ट

पटना: अग्निपथ योजना (Agneepath Scheme) के विरोध में उपद्रव, धरना-प्रदर्शन और आगजनी की वजह से पूर्व मध्य रेल क्षेत्राधिकार से खुलने और पहुंचने वाली ट्रेनों का परिचालन रविवार को दिनभर बाधित रहा।

ट्रेनें न चलने से यात्रियों को चौथे दिन कठिनाइयों का सामना करना पड़ा। वहीं, आरंभिक जानकारी के अनुसार, रविवार की तरह सोमवार को भी लगभग साढ़े तीन सौ रद्द रहेंगी। देर रात तक ट्रेनों की सूची तैयार की जा रही थी।

उधर, अग्निपथ योजना के बाद हिंसा की घटनाओं को देखते हुए राज्य में इंटरनेट सेवाओं (Internet services) पर पाबंदी का दायरा बढ़ता जा रहा है।

लगभग साढ़े तीन सौ ट्रेनें सोमवार को भी रद्द रहेंगी

गया और मधुबनी के बाद रविवार को इसमें जहानाबाद, खगड़िया और शेखपुरा जिलों को भी जोड़ दिया गया। अब राज्य के कुल 20 जिलों में सोशल नेटवर्किंग साइट पर रोक लगा दी गई है।

वहीं जिन जिलों में पहले से इंटरनेट सेवा पर पाबंदी लगाई गई थी, उसे भी 24 घंटे के लिए रविवार को बढ़ा दिया गया।

गौर हो कि रविवार को पूर्व मध्य रेल (East Central Railway) से खुलने और गुजरने वाली 362 ट्रेनें रद्द रहीं, जबकि दो ट्रेनों का आंशिक समापन किया गया।

खुसरूपुर में मालगाड़ी के इंजन के सामने रविवार को कुछ लोगों ने प्रदर्शन किया। आधे घंटे तक प्रदर्शन के बाद स्टेशन पर तैनात अधिकारियों के समझाने पर वे चले गये।

सोमवार को भारत बंद की स्थिति को देखते हुए रेलवे ने दर्जनों ट्रेनों को रद्द रखने का निर्णय लिया है। आरंभिक जानकारी के अनुसार रविवार की तरह लगभग साढ़े तीन सौ ट्रेनें (TRAIN) सोमवार को भी रद्द रहेंगी।