झारखंड

राज्य के 24 DSP बनेंगे IPS ऑफिसर, सेलेक्शन कमेटी की हरी झंडी

बैठक में राज्य सरकार की तरफ से मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, कार्मिक विभाग की सचिव वंदना दादेल और DGP अजय कुमार सिंह उपस्थित थे

रांची : झारखंड के 24 DSP की प्रोन्नति IPS ऑफिसर यानी SP के रूप में तय हो गई है।

जानकारी के अनुसार, सोमवार को यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (UPSC) के धौलपुर दिल्ली (Dholpur Delhi) स्थित ऑफिस में प्रोन्नति को लेकर सेलेक्शन कमेटी (Selection Committee) की बैठक में इसकी हरी झंडी मिल गई है।

UPSC की सेलेक्शन कमेटी की मिनट्स जारी होने के बाद इस संबंध में अधिसूचना शीघ्र जारी की जाएगी।

बैठक में राज्य सरकार की तरफ से मुख्य सचिव सुखदेव सिंह, कार्मिक विभाग की सचिव वंदना दादेल और DGP अजय कुमार सिंह उपस्थित थे।

इन अधिकारियों की हो रही प्रोन्नति

झारखंड पुलिस में 2017, 2018, 2019 और 2020 बैच की 24 रिक्तियों को लेकर वरीयता के आधार पर चर्चा हुई।

खेल कोटा से बहाल सरोजनी लकड़ा और अमेल्डा एक्का को भी IPS में प्रोन्नति दी गई है।

सेकेंड बैच के DSP रहे सादिक अनवर रिजवी, अरविंद कुमार सिंह, विकास कुमार पांडेय,विजय आशीष कुजूर को भी IPS का 2017 बैच आवंटित किया गया है।

इसके अलावा थर्ड बैच से दीपक कुमार शर्मा, राजकुमार मेहता, शंभू कुमार सिंह, अजय कुमार सिन्हा, अनुदीप सिंह, पूज्य प्रकाश, दीपक कुमार-1, सहदेव साव, अमित कुमार सिंह, अजीत कुमार, राजेश कुमार, मुकेश कुमार, दीपक कुमार पांडेय, अनिमेश नैथानी, अजय कुमार-1, आरिफ एकराम, विमल कुमार, अविनाश कुमार के नाम पर चर्चा हुई।

थर्ड बैच के DSP को 2018, 2019 और 2020 की रिक्तियों में समायोजित किया जाएगा।

इनके प्रमोशन पर नहीं हुई चर्चा

वरीयता के आधार पर अधिकारियों की प्रोन्नति पर बैठक हुई, लेकिन द्वितीय बैच के 3 आधिकारियों राधा प्रेम किशोर, शिवेंद्र व मुकेश महतो के नाम पर विचार नहीं किया गया।

CBI जांच के दायरे में होने के कारण इन अधिकारियों की प्रोन्नति पर विचार नहीं किया गया।

धनबाद में फायरिंग केस में आरोपी व चार्जशीटेट होने के कारण वरीयता क्रम में ऊपर होने के बावजूद मजरुल होदा के नाम पर विचार नहीं किया गया।

x