बिहार में शराब तस्कर ने दारोगा को गाड़ी से कुचला, मौत

SP योगेन्द्र कुमार (Yogendra Kumar) ने घटना की जानकारी देते हुए बुधवार सुबह बताया कि मंगलवार देर रात नावकोठी थानाध्यक्ष (पुअनि) खामस चौधरी को जानकारी मिली कि Alto कार से कोई व्यक्ति शराब ले जा रहा है। जिसके बाद रात्रि गश्ती गाड़ी भेजी गई।

News Aroma

Bihar Liquor Smuggler Crushes Inspector: बेगूसराय में बेखौफ शराब तस्कर ने बीती रात Police पदाधिकारी को गाड़ी से रौंद कर उसकी जान ले ली। गाड़ी की चपेट में आकर एक हवलदार भी घायल हो गया है, जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। ये सभी पुलिसकर्मी शराब तस्कर की गाड़ी को रोकने का प्रयास कर रहे थे।

- Advertisement -

SP योगेन्द्र कुमार (Yogendra Kumar) ने घटना की जानकारी देते हुए बुधवार सुबह बताया कि मंगलवार देर रात नावकोठी थानाध्यक्ष (पुअनि) खामस चौधरी को जानकारी मिली कि Alto कार से कोई व्यक्ति शराब ले जा रहा है। जिसके बाद रात्रि गश्ती गाड़ी भेजी गई। रात के 12:30 बजे ऑल्टो कार रोकने के लिए छतौना बूढ़ी गंडक नदी पुल के पास पुलिस गाड़ी लगाकर पुअनि खामस चौधरी खुद तीन होम गार्ड जवान के साथ खड़े थे।

कार खामस चौधरी को रौंदते हुए निकल गई

Alto कार वाले ने पुलिस की गाड़ी देख अपनी Speed बढ़ा दी और खामस चौधरी को रौंदते हुए निकल गई। सिर में गंभीर चोट के कारण घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गई। इस दौरान एक होमगार्ड जवान दरियापुर निवासी बालेश्वर यादव को भी चोट लगी, जिसका सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है।

- Advertisement -

घटना के तुरंत बाद बखरी SDPO चंदन कुमार, SI बखरी, SHO नावकोठी के साथ घटनास्थल पर पहुंच गए। SDPO बखरी के नेतृत्व में विशेष टीम बना दी गई है। घटना के बाद परिजनों में कोहराम मच गया है। वहीं, पुलिस कर्मियों में भी भारी आक्रोश है।

मधुबनी जिले के राहिका थाना क्षेत्र स्थित मारर गांव के भोला चौधरी के पुत्र खामास चौधरी 2009 बैच के दारोगा थे। 2013 में उनकी ज्वाइनिंग हुई और करीब चार साल से बेगूसराय में तैनात थे। घटना की सूचना मिलने के बाद पत्नी कल्पना सहित अन्य लोगों की भीड़ जुट गई है। पोस्टमार्टम कर पुलिस लाइन में गार्ड ऑफ ऑनर (Guard of Honour) देकर अंतिम संस्कार के लिए शव पैतृक गांव भेजने की तैयारी चल रही है।