झारखंड में बजाज फाइनेंस के कर्मचारी ने लोन देने के नाम पर की 21 हजार की ठगी

रामगढ़ : जिले में बजाज फाइनेंस कंपनी में लोन अप्लाई करना एक युवक को महंगा पड़ गया। कंपनी के एक कर्मचारी ने लॉगइन चार्ज, एनओसी और जीएसटी के नाम पर 21000 ठग लिए।

पीड़ित अनुराग कुमार यादव शुक्रवार को रामगढ़ थाने पहुंचा और पुलिस से न्याय की गुहार लगाई। इस मामले में रामगढ़ इंस्पेक्टर विद्या शंकर ने प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

अनुराग ने पुलिस को बताया कि वह चिंतपूर्णी स्टील प्राइवेट लिमिटेड में काम करता है और वह बिंझार का निवासी है। उसने 26 फरवरी को बजाज फाइनेंस कंपनी में 80000 लोन के लिए ऑनलाइन अप्लाई किया था।

करने के बाद ही कंपनी के एक कर्मचारी ने उसे लॉगइन चार्ज 2150 और एनओसी के लिए 7200 जमा कराने को कहा। इसके बाद जीएसटी चार्ज के नाम पर ₹11500 जमा करने के लिए कहा गया।

इसके लिए केनरा बैंक का एक अकाउंट नंबर भी दिया गया‌। अनुराग कुमार यादव ने फाइनेंस कंपनी के कर्मचारी के कहे अनुसार कुल 20850 रुपए उस खाते में जमा करा दिए।

लेकिन फिर से फाइनेंस कंपनी के कर्मचारी ने 9600 की मांग कर डाली। इसके बाद अनुराग का माथा ठनका और उसने पैसे देने से इंकार कर दिया।

साथ ही उसने कहा कि उसे लोन नहीं चाहिए। उसने अब तक जितनी रकम जमा की है वह उसे वापस कर दें। उसने जैसे ही पैसे की मांग की बैंक कर्मचारी ने उसे 72 घंटे तक इंतजार करने को कहा।

इसके बाद भी जब पैसे नहीं आए तो अनुराग ने दुबारा उससे संपर्क किया।

इसके बाद फाइनेंस कंपनी के कर्मचारी ने उसे कहा कि खाते में जमा कराई गई रकम 90 दिनों के अंदर वापस होगी।

अगर वह कानून का सहारा लेना चाहता है तो ले सकता है।

अब इस पूरे मामले को लेकर पुलिस तहकीकात कर रही है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button