रामगढ़ में स्वास्थ्य केंद्रों से हटकर अब पंचायतों में लगेगा कोरोना टीकाकरण शिविर: डीसी

रामगढ़: जिले में कोरोना टीकाकरण अभियान अब धरातल पर भी उतरेगा। पहले स्वास्थ्य केंद्रों में लोगों को बुलाकर कोरोना का टीका लगाया जा रहा था।

लेकिन अब गांव में जाकर स्वास्थ्य कर्मी बुजुर्गों और बीमार लोगों को कोरोना का टीका लगाएंगे। यह बात मंगलवार को समाहरणालय में आयोजित जिला टास्क फोर्स की बैठक में डीसी संदीप सिंह ने कही।

डीसी ने 20 एवं 21 मार्च, 23 एवं 24 मार्च तथा 26 एवं 27 मार्च को जिले के अलग-अलग पंचायतों में कोरोना टीकाकरण शिविर लगाने हेतु डीडीसी, एसडीओ, सिविल सर्जन सभी बीडीओ एवं प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों के साथ विस्तार से चर्चा की।

सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों एवं प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को प्रखंड स्तरीय टास्क फोर्स की बैठक कर कैंप के लिए केंद्रों का चयन करने एवं योजनाबद्ध तरीके से टीकाकरण कार्य कराने का निर्देश दिया।

उपायुक्त ने डीपीएम जेएसएलपीएस को स्वयं सहायता समूह के माध्यम से जिले के सुदूरवर्ती क्षेत्रों में लोगों को कोरोना टिकाकरण के प्रति जागरूक करने एवं कैंप के दौरान कार्य करने के संबंध में कई महत्वपूर्ण दिशा निर्देश दिए।

उपायुक्त ने सिविल सर्जन से अब तक जिले में हेल्थ केयर वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर, 60 वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्ग एवं लंबे समय से किसी बीमारी से ग्रसित 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को दिए गए कोरोना के टीके की जानकारी ली।

इस दौरान उन्होंने टीकाकरण की गति को तीव्र करने की बात कही।

सिविल सर्जन द्वारा उपायुक्त को बताया गया कि वर्तमान में रामगढ़ जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में 16 टीकाकरण केंद्रों का चयन किया गया है।

इस संबंध में उपायुक्त ने सिविल सर्जन को टीकाकरण केंद्रों की संख्या बढ़ाने एवं आयुष्मान योजना के तहत निबंधित सभी अस्पतालों, नर्सिंग होम में टीकाकरण व्यवस्था शुरू करने के लिए कई दिशा निर्देश दिए।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button