Uncategorizedभारत

वाहन स्क्रैपिंग फैसिलिटी से प्रदूषण में आएगी कमी: नितिन गडकरी

केंद्रीय मंत्री ने नूंह में किया वाहन स्क्रैपिंग सेंटर का उद्घाटन

चंडीगढ़: केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्गमंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि केंद्र सरकार की वाहन स्क्रैपिंग पॉलिसी से प्रदूषण में कमी आएगी। ऑटोमोबाइल क्षेत्र में कम लागत के साथ उत्पादन क्षमता बढ़ेगी।

गडकरी मंगलवार को नूंह जिला के फतेहपुर गांव में रजिस्टर्ड वाहन स्क्रैपिंग फैसिलिटी सेंटर के उद्घाटन अवसर पर बोल रहे थे। इस मौके पर हरियाणा के परिवहनमंत्री मूलचंद शर्मा भी मौजूद रहे।

केंद्रीयमंत्री ने कहा कि इस नीति से सबसे बड़ा लाभ यह होगा कि कॉपर, स्टील, एल्युमिनियम, रबड़ और प्लास्टिक आसानी से उपलब्ध हो सकेगा। देश में ऑटोमोबाइल का एक बड़ा क्षेत्र है, जिसमें करोड़ों लोगों को रोजगार मिल रहा है।

वाहन स्क्रैपिंग पॉलिसी से बड़ी संख्या में रोजगार के अवसर पैदा होगें

2024 के अंत तक इस नई वाहन स्क्रैपिंग पॉलिसी से बड़ी संख्या में रोजगार के अवसर पैदा होगें तथा पर्यावरण को शुद्ध बनाने में भी यह पॉलिसी महत्वपूर्ण रोल अदा करेगी।

उन्होंने कहा कि दिल्ली जैसे महानगरों में प्रदूषित हवा से लोगों को सबसे ज्यादा परेशानी होती है। पुराने वाहनों में पुरानी तकनीक के प्रयोग की वजह से अधिक प्रदूषण फैलता है। नए वाहनों में प्रदूषण की मात्रा कम है।

इसीलिए इस नीति को देश में अपनाए जाने की जरूरत है। नितिन गडकरी ने कहा कि वाहन स्क्रैपिंग फैसिलिटी सेंटर में पुराने वाहनों को नष्ट करने पर नए वाहन खरीदने में कई तरह की छूट दी जाएगी।

इस पॉलिसी से देश के ऑटोमोबाइल क्षेत्र में उत्पादन क्षमता तेजी से बढ़ेगी, जिससे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारतीय बाजार की पहचान बनेगी।