उत्तर प्रदेश में बनेगी विश्वस्तर की फिल्म सिटी: आदित्यनाथ

मुंबई: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि गौतमबुद्ध नगर जिले में यमुना एक्सप्रेसवे के पास विश्वस्तर की हर सुविधाओं से लैस फिल्म सिटी का निर्माण किया जा रहा है।

उन्होंने दावा किया कि प्रदेश में सामाजिक सुरक्षा की वजह से देश के उद्योगपति हर क्षेत्र में निवेश के लिए उत्सुक हैं।

उन्होंने कहा कि कोरोना जैसे संकटकाल में भी उत्तर प्रदेश एक करोड़ 25 लाख लोगों को रोजगार देने में सफल रहा है। यह आंकड़ा देश के सभी राज्यों से ज्यादा है।

दो दिवसीय दौरे पर मंगलवार शाम को मुंबई पहुंचे मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने बुधवार को पत्रकार वार्ता में कहा कि स्पर्धा के इस युग में हर निवेशक राजनीतिक स्थिरता, सामाजिक सुरक्षा एवं भेदभाव रहित माहौल चाहता है।

उत्तर प्रदेश में राजनीतिक स्थिरता, सामाजिक सुरक्षा और भेदभावरहित माहौल है। इसी वजह से आज बहुत से उद्योगपति उत्तरप्रदेश में निवेश करने के लिए उत्सुक हैं।

उन्होंने बताया कि आज अडानी, एलएंडटी, हिंदुजा, सिमेंस आदि उद्योग समूहों के साथ उनकी बात हुई है। इन उद्योगपतियों ने चर्चा के दौरान बहुत से सुझाव भी दिए हैं। इन सुझावों का निराकरण किया जाएगा।

आदित्यनाथ ने कहा कि पिछले तीन साल में उत्तर प्रदेश में बहुत बदलाव आया है।

प्रधानमंत्री मोदी की देश की 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने की संकल्पना को साकार करने की दिशा में उत्तर प्रदेश निरंतर आगे बढ़ रहा है।

प्रदेश में अपार संभावनाएं हैं। रोजगार के अवसर भी पर्याप्त हैं। प्रदेश की कुल आबादी करीब 24 करोड़ है, जिसमें 8 करोड़ लोग शहरी इलाकों में रहते हैं।

आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में सेक्टर के हिसाब से विकास की नीति बनाई गई है।

आदित्यनाथ ने शिवसेना प्रवक्ता संजय राऊत से जुड़े पत्रकारों के एक सवाल पर कहा कि वह कहीं कोई चीज उठाकर ले जाने नहीं आए हैं, बल्कि उत्तर प्रदेश में नया वैश्विक स्तर की फिल्म सिटी बना रहे हैं।

स्पर्धा के इस युग में उन्होंने अपने राज्य में सुविधाओं के लिए नीतियां पब्लिक डोमेन में सार्वजनिक रूप से रखी हैं। उनका प्रयास प्रदेश के लोगों को अपने ही राज्य में हर स्तर पर रोजगार उपलब्ध कराने का है।

उन्होंने कहा कि हर किसी को मनरेगा में काम नहीं दिया जा सकता है, इसीलिए लोगों को ज्ञान एवं मनोरंजन देने के लिए फिल्म सिटी का निर्माण उत्तर प्रदेश सरकार के लिए जरूरी है।

इसके मद्देनजर राज्य सरकार प्रदेश में वैश्विक स्तर की फिल्म सिटी बना रही है। इसका लाभ यहां के लोगों को भी मिलेगा।

उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री योगी ने एक फिल्म सिटी स्थापित करने की महत्वाकांक्षी योजना जारी की थी और फिल्म जगत के लोगों को उत्तर प्रदेश का रुख करने का प्रस्ताव दिया था।

राज्य सरकार ने गौतमबुद्ध नगर जिले में यमुना एक्सप्रेस-वे के पास फिल्म सिटी स्थापित करने के प्रस्ताव को मंजूरी भी दी है।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button