भारत

पहले कोविशील्ड और अब कोवैक्सीन के साइड इफेक्ट पर हुआ नया खुलासा, जानिए डिटेल…

कुछ दिन पहले कोविशील्ड वैक्सीन को लेकर तमाम खुलासे हुए थे। अब Covaxin को भी लेकर नए तथ्य सामने आए हैं।

Covaxin Side Effects : कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण से बचने के लिए लोगों ने कोविशील्ड (Covishield) और कोवैक्सीन (Covaxin) टीके लगवाए थे।

कुछ दिन पहले कोविशील्ड वैक्सीन को लेकर तमाम खुलासे हुए थे। अब Covaxin को भी लेकर नए तथ्य सामने आए हैं।

कोविशील्ड को विकसित करने वाली ब्रिटिश कंपनी AstraZeneca ने पिछले दिनों वहां की एक अदालत में स्वीकार किया था कि उसके टीके से कुछ लोगों में गंभीर बीमारी हो सकती है।

अब इसी तरह अपने देश में विकसित Bharat Biotech कंपनी की वैक्सीन ‘Covaxin’ के साइड इफेक्ट को लेकर नई जानकारी सामने आई है।

इसमें दावा किया गया है कि इस वैक्सीन को लगवाने के करीब एक साल बाद तक ठीक-ठाक संख्या में लोगों में इसके साइड इफेक्ट देखे गए।

इससे सबसे ज्यादा प्रभावित किशोर लड़कियां थीं। कुछ साइड इफेक्ट बेहद गंभीर किस्म के थे।

बनारस हिंदू विश्वविद्याल में हुई स्टडी

यह स्टडी बनारस हिंदू विश्वविद्याल (BHU) की संखा शुभ्रा चक्रबर्ती और उनकी टीम ने किया है।

रिपोर्ट के मुताबिक टीका लगवाने वाले अधिकतर लोगों में एक साल तक साइड इफेक्ट देखा गया।

स्टडी में 1024 लोगों को शामिल किया गया। इसमें 635 किशोर और 391 युवा थे।

इन सभी से टीका लगवाने के एक साल बाद तक फॉलोअफ चेकअप के लिए संपर्क किया गया।

स्टडी में 304 किशोरों यानी करीब 48 प्रतिशत में ‘वायरल अपर रेस्पेरेट्री ट्रैक इंफेक्शन्स’ देखा गया।

ऐसी स्थिति 124 यानी 42.6 युवाओं में भी दिखी। इस विषय से संबंधित डिटेल रिपोर्ट स्थित अखबार इकनॉमिक टाइम्स में छपी है।

रिपोर्ट के मुताबिक कोवैक्सीन का साइड इफेक्ट युवा महिलाओं में भी देखा गया. 4.6 फीसदी महिलाओं में पीरियड से जुड़ी परेशानी सामने आई। 2.7 फीसदी में ओकुलर यानी आंख से जुड़ी दिक्कत दिखी। 0.6 फीसदी में हाइपोथारोइडिज्म पाया गया।

x