नशामुक्त झारखंड के लिए CM चंपाई ने जागरूकता रथ को किया रवाना, बोले…

News Aroma Desk

CM Champai flagged off awareness chariot for drug-free Jharkhand : बुधवार को नशामुक्त झारखंड (Drug Free jharkhand) बनाने के लिए झारखंड मंत्रालय में कार्यक्रम हुआ।

CM चंपाई सोरेन ने जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। उन्होंने कहा कि सभी के सहयोग से झारखंड को नशामुक्त बनाना है। इसके लिए सख्ती भी बरती जाएगी‌। नशे के कारोबारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

हम सभी को न सिर्फ नशे पर नकेल कसने के लिए खुद जागरूक होना है, बल्कि दूसरों को भी जागरूक करना है। इस संकल्प से ही हम झारखंड को नशामुक्त बना सकते हैं। इस अवसर पर सभी ने नशा मुक्त झारखंड अभियान (Drug Free Jharkhand campaign) के तहत एकजुट होकर स्वयं, परिवार और समाज को नशा से दूर रहने की शपथ ली।

मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई कि नशे के खिलाफ प्रचार -प्रसार से लोग जागरूक होंगे और दूसरों को भी नशे से दूर रखने के लिए प्रेरित करेंगे। इस अवसर पर मंत्री सत्यानंद भोक्ता, विधायक जीगा सुसारण होरो, मुख्य सचिव एल खियांग्ते, प्रधान सचिव वंदना दादेल और पुलिस महानिदेशक अजय कुमार सिंह समेत कई वरीय पदाधिकारी मौजूद थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बेहतर समाज और बेहतर राज्य बनाने के लिए नशा पर नियंत्रण बहुत जरूरी है। शहर हो या गांव, हर किसी को नशे से दूर रहना होगा। जो नशा को बढ़ावा दे, उसे भी रोकने के लिए हम सभी को आगे आना होगा। हर किसी के सहयोग से हम अपने इस अभियान में निश्चित तौर पर सफल होंगे।

अगर अगर हम आज नशा पर नियंत्रण नहीं कर पाएंगे तो आगे और भी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। इसलिए हर तरह के नशे की प्रवृत्ति को रोकने की जरूरत है।

समाज में फैल रहीं विकृतियों को रोकना होगा

मुख्यमंत्री ने कहा कि कि नशे की वजह से समाज में तरह-तरह की विकृतियां फैलती हैं। इससे युवाओं में अपराध की प्रवृत्ति बढ़ती है। परिवार में अलगाव की स्थिति पैदा होती है। आपसी संबंधों में दरार आने लगता है। समाज गलत दिशा में आगे बढ़ने लगता है। सबसे बड़ी बात कि नशा का सेवन करने वालों के स्वास्थ्य पर इसका काफी नकारात्मक असर पड़ता है।

शारीरिक और मानसिक बीमारियां उसे गिरफ्त में लेने लगती हैं। ऐसे में युवाओं को नशा से दूर रहना होगा। यह तभी संभव है, जब उन्हें नशे के दुष्प्रभाव से अवगत किया जाएगा।

6 जागरूकता रथों को किया गया रवाना

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर नशा मुक्त झारखंड बनने के लिए 6 जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इसमें चार जागरूकता रथ रांची और एक-एक रामगढ़ और खूंटी (Khunti) जिले के लिए है। विदित हो कि झारखंड के सभी जिलों में 19 से 26 जून तक नशे के विरुद्ध लोगों को जागरूक करने के लिए जागरूकता रथ निकाले जा रहे हैं।

हमें Follow करें!

x