सड़क दुर्घटना में घायल ई-रिक्शा चालक की इलाज के दौरान RIMS में मौत, आक्रोशित परिजनों ने रोड किया जाम

News Aroma Desk

E-rickshaw Driver Injured in Road Accident: दो दिन पहले दुमका में सड़क दुर्घटना में घायल ई-रिक्शा चालक (E-Rickshaw Driver) चंदन मल्लाह ने रविवार को RIMS में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

सोमवार को उसका शव दुमका पहुंचा। शव पहुंचते ही परिजन आक्रोशित हो गए और नगर परिषद चौक को करीब चार घंटे तक जाम कर दिया। बाद में प्रशासन और पुलिस अधिकारियों के समझाने के बाद लोगों ने जाम हटाया।

पिकअप वैन ने मारी थी टक्कर

बता दें कि दो दिन पहले दुमका नगर थाना क्षेत्र के हिजला रोड में एक पिकअप वैन ने ई-रिक्शा को टक्कर मार दी थी। इसमें ई-रिक्शा चालक चंदन मल्लाह, उसकी मां और बहन घायल हो गए थे।

पहले तीनों को स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया था। चंदन मल्लाह की गंभीर स्थिति को देखते हुए उसे RIMS रेफर कर दिया गया, जहां बीती रात उसकी मौत हो गई। मृतक सदर प्रखंड के मोरटांग इलाके का रहने वाला था।

10 लाख रुपये मुआवजा कीमांग

लोगों की मांग थी कि मृतक परिवार का एकमात्र कमाने वाला सदस्य था। उस पर अपनी मां, पत्नी और बच्चों के जीविकोपार्जन की जिम्मेदारी थी।

अब जब वह इस दुनिया से चला गया तो उसके परिवार का गुजारा कैसे होगा। लोगों की मांग थी कि प्रशासन उन्हें तत्काल 10 लाख रुपये नकद मुआवजा, परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी, PM आवास योजना समेत अन्य सरकारी योजनाओं का लाभ दे।

मृतक के परिजनों का समर्थन कर रहे पुराना दुमका पंचायत के मुखिया रवींद्र बास्की ने कहा कि उनकी मांगें जायज हैं और Pickup Van के चालक की लापरवाही से यह हादसा हुआ है। उन्होंने कहा कि मेरी जानकारी के अनुसार पिकअप चालक नशे में था।

अधिकारियों ने मुआवजे का दिया आश्वासन

सड़क जाम की सूचना जब Police प्रशासन को मिली तो दुमका के CO अमर कुमार और नगर थाना प्रभारी अमित लकड़ा पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। इधर, मुआवजे की मांग को लेकर आक्रोशित लोग कुछ भी सुनने को तैयार नहीं थे।

अंत में CO ने बताया कि Hit and Run के तहत मुआवजा राशि और बीमा राशि दिलाने में प्रशासन आपकी मदद करेगा।

मृतक के परिवार को सरकार की अन्य कल्याणकारी योजनाओं से जोड़ने का भी आश्वासन दिया गया। साथ ही वाहन चालक-मालिक पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

हमें Follow करें!

x