बिहार

नीतीश ने विभिन्न सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट का किया निरीक्षण, बरसात के पूर्व की तैयारियों का लिया जायजा

निर्माण कार्य के दौरान जहां कहीं भी सड़कों का कटाव किया गया है, उन सभी पथों की कनेक्टिविटी ठीक करें-नीतीश

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Chief Minister Nitish Kumar) ने गुरुवार को राजधानी पटना में बरसात के पूर्व की तैयारियों का जायजा लिया। इस दौरान अधिकारियों को कई निर्देश भी दिए।

मुख्यमंत्री सैदपुर नहर रोड जाकर सैदपुर नाले का निरीक्षण किया। इस क्रम में मुख्यमंत्री ने ड्रेनेज पंपिंग प्लांट (Drainage Pumping Plant) सैदपुर का भी निरीक्षण किया और अधिकारियों को कई निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री इसके बाद नमामि गंगे परियोजना के तहत निर्मित सैदपुर सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट का भी निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने फस्र्ट स्टेज के गंदे पानी तथा अंतिम स्टेज के साफ पानी को भी देखा तथा पूरी प्रक्रिया की जानकारी ली।

इसके पश्चात् मुख्यमंत्री ने नमामि गंगे के तहत पहाड़ी पर निर्मित सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट का भी निरीक्षण किया और अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि निर्माण कार्य के दौरान जहां कहीं भी सड़कों का कटाव किया गया है, उन सभी पथों की कनेक्टिविटी ठीक करें।

निर्माण कार्य 31 मई तक पूर्ण करने के निर्देश

उन्होंने सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट का निर्माण कार्य 31 मई तक पूर्ण करने के निर्देश दिए।निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री के साथ कई अधिकारी भी थे।

निरीक्षण के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ दिनों में बारिश होने वाली है। बरसात के पूर्व की तैयारियों का जायजा लेने के क्रम में वाटर सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट का मुआयना करने आये हैं।

निरीक्षण के दौरान अधिकारियों ने बताया है कि जल्द ही सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट का काम पूरा हो जायेगा।उन्होंने कहा कि सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट को तेजी से पूरा करने की जरुरत है जिससे बारिश के दौरान लोगों को कोई परेशानी नहीं हो।

सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट के पानी को गंगा नदी में भेजने के बजाय इसका उपयोग सिंचाई में किया जाना चाहिए, जिसे लेकर भी काम चल रहा है।