बन्ना गुप्ता ने चालक को हटाया, सरकारी आवास से लेकर भाड़े के मकान में महिला से बनाया शारीरिक संबंध ; गर्भपात कराने और धोखाधड़ी कर 7 लाख हड़पने का है आरोप

रांची: झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता Health Minister Banna Gupta ने यौन शोषण के आरोपित चालक को उसके पद से हटा दिया है। उस पर शादी का झांसा देकर यौन शोषण का आरोप लगा है।

यह मामला सामने आते ही मंत्री ने गुरुवार की देर रात ही उसे तत्काल प्रभाव से पद मुक्त कर दिया। मंत्री के प्रेस सलाहकार संजय ठाकुर ने शुक्रवार को इसकी जानकारी दी।

उल्लेखनीय है कि जमशेदपुर के कदमा में रहने वाली एक महिला ने जमशेदपुर व्यवहार न्यायालय में चालक प्रद्युत सिंह उर्फ मुन्ना सिंह के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी।

महिला ने दुष्कर्म किए जाने, धमकी देने, गर्भपात कराने और धोखाधड़ी कर सात लाख रुपये हड़पने का आरोप लगाया है।

रांची में बन्ना गुप्ता के सरकारी आवास पर चार बार संबंध बनाए

बता दें कि कदमा भाटिया बस्ती में रहने वाली दो बेटियों की मां ने स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता के सरकारी चालक प्रदुत कुमार सिंह उर्फ मुन्ना के खिलाफ यौनशोषण का आरोप लगाया है।

महिला ने कोर्ट में दर्ज शिकायतवाद में दुष्कर्म, गर्भपात कराने, धमकी देने व हरिजन एक्ट की धारा लगाई है।

कोर्ट ने कदमा थानेदार को मामला दर्ज कर कार्रवाई का निर्देश दिया है। पीड़िता के अनुसार, मुन्ना ने अपनी पत्नी को बीमार बता उससे दोस्ती की। फिर शहर के कई जगहों पर भाड़े के मकान में शारीरिक संबंध बनाया।

रांची में बन्ना गुप्ता के सरकारी आवास पर चार बार संबंध बनाए।

टीएमएच में कार्यरत महिला के डॉक्टर भाई से 7 लाख रुपए कर्ज लिए। महिला ने शादी का दबाव बनाया तो मुन्ना ने वीडियो वायरल करने व बेटियों को जान से मारने की धमकी दी।

Back to top button