झारखंड : ‘दोस्तों’ ने दो नाबालिग लड़कियों को मिलने बुलाया, आने पर किया अपहरण और दुष्कर्म, एक गिरफ्तार

तोरपा के एसडीपीओ ओम प्रकाश तिवारी ने शुक्रवार की शाम अपने कार्यालय में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया

खूंटी: तोरपा थाना क्षेत्र से अपहृत दो नाबालिग लड़कियों को पुलिस ने गुरुवार को बरामद कर लिया। साथ ही अपहरण और दुष्कर्म के आरोपी तोपल सोए (निवासी कोचांग, थाना-अड़की) को गिरफ्तार किया है।

इस घटना में शामिल एक विधि विवादित नाबालिग को भी निरुद्ध किया गया है। तोरपा के एसडीपीओ ओम प्रकाश तिवारी ने शुक्रवार की शाम अपने कार्यालय में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि एक व्यक्ति ने दो नाबालिग लड़कियों के अपहरण करने की लिखित शिकायत दर्ज करायी है।

गुप्त सूचना के आधार पर विभिन्न स्थलों पर अपहृतों की बरामदगी और अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए कई जगहों पर छापामारी की गयी और दोनों पीड़िताओं को बरामद कर लिया गया।

एसडीपीओ ने बताया कि बरामद पीड़िताओं के बयान के अनुसार उनके अपहरण और जबरन शारीरिक संबंध बनाने के आरोप में चार व्यक्तियों की संलिप्तता की बात प्रकाश में आयी।

पीड़िताओं ने पुलिस को बताया कि लड़कों से पूर्व से दोस्ती थी और फोन पर बातचीत होती थी। फोन से ही उन्हें बुलाने पर दोनों उनके पास गयी थीं। पुलिस द्वारा छापामारी करते हुए घटना में शामिल अभियुक्त तोपल सोए को गिरफ्तार किया गया और एक विधि विवादित किशोर को निरुद्ध किया गया।

पुलिस के मुताबिक, उक्त अभियुक्तों द्वारा अपने स्वीकारोक्ति बयान में दो अन्य साथियों के साथ दोनों अपहृतों को ले जाकर जबरन शारीरिक संबंध बनाने की बात को स्वीकार किया गया है। घटना में शामिल अन्य दो व्यक्तियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापामारी कर रही है।

छापामारी टीम में ओम प्रकाश तिवारी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी तोरपा, दिग्विजय सिंह, पुलिस निरीक्षक, तोरपा अंचल, पुअनि अरविंद कुमार, थाना प्रभारी तोरपा, पुअनि मुन्ना कुमार सिंह थाना प्रभारी कर्रा, एसआई महती बोयपाई, संदीप बनर्जी, रंजीत किशोर, अकबर अमहद खान के अलावा क्यूएटी, तोरपा तथा कर्रा थाना सशस्त्र बल के जवान शामिल थे।

हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं। हमारी पत्रकारिता को किसी भी दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें।
Back to top button